हाथ में पिस्टल होने के बावजूद नहीं किया निहत्थों पर वार,पीएम मोदी बोले हमे गर्व है

तीन दिनों तक पाकिस्तान के हिरासत में रहने वाले भारतीय जाबांज विंग कमांडर अभिनंदन आज भारत आ गए। जहां उनका स्वागत बहुत जोरो शोरो से किया गया। देश को उन पर गर्व है। उन्होंने जिस शोर्य और वीरता का परिचय दिया उसे जानकर हर भारतीय का सीना गर्व से ऊंचा हो जाएगा।

1.विंग कमांडर अभिनंदन के अदम्य साहस की हर तरफ चर्चा

2.पास में पिस्टल होने के बावजूद नहीं चलाई 3.निहत्थों पर गोलियां

4.सीक्रेट डॉक्युमेंट चबाए और दूसरे कागजात तालाब में भिगोए

5.इमरान खान ने अभिनंदन की रिहाई का संसद में किया था ऐलान


किसी जैसे ही अभिनंदन अपने मिग-21 चौकी पूरी तरीके से क्रैश हो चुका था उससे बाहर निकलकर पहुंचे ही थे। वैसे ही पाकिस्तान के लोगों ने उन्हें चारों तरफ से घेर लिया था। पाकिस्तान के सभी लोग पत्थर उठाए खड़े थे। तभी विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान ने बहादुरी का परिचय देते हुए सेना से प्राप्त हुए सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को को चबाना शुरु कर दिया ।उन्हें तब तक चबाया जब तक वह पूरी तरीके से खत्म नहीं हो गए उनके हाथ में पिस्टल थी और लोग हमला किए जा रहे थे।

लेकिन उन्होंने वहां मौजूद किसी व्यक्ति पर गोली नहीं चलाई। पर जब इतने सारे लोग उन पर पत्थर लेकर हमला कर रहे थे। तो उन्होंने बचाव में हवा में फायरिंग की और बहुत दूर तक दौड़ते हुए एक तालाब किनारे आ गए और वहां पर उन्होंने सेना से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज को तालाब में फेंक दिया था कि वह नष्ट हो सके।और दुश्मन देश की सेना को भारत के प्लान के बारे में कोई जानकारी ना हो और भारत के खुफिया जगह के बारे में पता ना चल सके।दुश्मन को करते हुए पाकिस्तानी सीमा में जा पहुंचे अभिनंदन वर्तमान ने अपनी बहादुरी से ना सिर्फ भारतीयों का अपनी बहादुरी से अपना मुरीद बनाया बल्कि उन्होंने पड़ोसी मुल्क को भी अपनी बहादुरी का मुरीद बना दिया।

मेरी पीठ टूट गई है मुझे पानी चाहिए।

जैसे ही अभिनंदन वर्तमान अपने पैराशूट से नीचे आए वैसे ही पाकिस्तान के लोगों ने उन्हें चारों तरफ से घेर लिया था। तब उन्होंने पहला सवाल यह पूछा था कि, क्या यह भारत है या पाकिस्तान, तक किसी ने भीड़ में से कहा कि ये भारत है, लेकिन जब अभिनंदन वर्तमान को कुछ अजीब लगा तब उन्होंने जय माता दी के नारे लगाना शुरू कर दिए और फिर सभी लोगों ने वहां पाकिस्तान के नारे लगाने शुरू कर दिए।उन्होंने उनसे यह भी कहा कि उनकी पीठ टूट गई है, और प्यास लगी है इसलिए पानी चाहिए।

महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अभिनंदन ने निगल लिया लिया और कुछ डॉक्यूमेंट को लेकर वह तालाब के किनारे दौड़े और उन्हें वहां पर तालाब में फेंक दिया और तालाब में कूद गए जब वहां मौजूद लोगों ने उन्हें तालाब से निकाला और उनके साथ मारपीट की और उनमें से एक व्यक्ति ने तो अभिनंदन के पांव में गोली मार दी थी तभी पाकिस्तानी सेना के 6 जवान आए और उन्होंने अभिनंदन को अपनी हिरासत में ले लिया था।

देश को गर्व है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अभिनंदन वर्तमान के इस अदम्य साहस और वीरता को सराहा और उन्होंने उनकी साहस की प्रशंसा भी की।और जैसे ही वह वाघा बॉर्डर के रास्ते भारत पहुंचे वैसे ही उनका स्वागत बड़े ही धूमधाम के साथ किया गया।

जिनेवा संधि के कारण पाक को झुकना पड़ा

भारत ने इस बात का कड़ा विरोध किया था और उन्होंने कहा था कि वह बिना किसी शर्त के भारतीय पायलट को भारत के हवाले कर दे वरना इसका अंजाम बहुत ही पूरा होगा भारत से बढ़ते हुए दबाव और अंतरराष्ट्रीय दबाव होने के कारण पाकिस्तान को अभिनंदन वर्तमान को रिहा करना पड़ा।पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरुवार को ही संसद में ऐलान कर दिया था कि वह शांति के संदेश के रूप में विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को भारत को शुक्रवार यानि आज सौंप देंगे।

जिनेवा संधि क्या है

अब आप यह सब सोच रहे होंगे कि आखिर जिनेवा संधि है क्या तो दोस्तों जेनेवा संधि के अंतर्गत यदि किसी दूसरे देश का पायलट या सेना किसी दूसरे देश की सीमा मैं प्रवेश कर जाती है ।जब जो की अघोषित युद्ध हो यानी की उन दोनों देशों के बीच युद्ध नहीं हो रहा हो, इस बीच इस संधि के तहत पकड़े गए सैनिक को उसके मुल्क में उन्हें भेजना होता है। इस संधि के तहत कोई भी देश किसी भी देश के सैनिक को नुकसान नहीं पहुंचा सकता।

भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान अब भारत में हैं ।और उनका स्वागत बहुत ही जोरो शोरों से किया गया। हम सब भारतीयों को ऐसे कमांडर पर गर्व है जो कि दुश्मन के सामने भी सीना तान कर खड़ा रहा ।आशा करते हैं आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा आपको अभिनंदन वर्तमान की बहादुरी के बारे में क्या राय है हमें कमेंट करके जरूर बताइएगा ।जय हिंद

Khoj Media Me Aapka Swagat Hai. Agar Aap Rojana Aisi hi khabar Apne facebook Par Pana chahte hain to Khojmedia Ke Facebook Page Ko abhi Like Kare.

Related Posts:

Disqus Comments